Best Shiv Bholenath Shayari, Status for Facebook, Instagram and whatsapp

Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Hello, everyone how you doing? I hope you all are doing well in your life. Again I am back with something great for you all. Today I have prepared Bholenath Shayari, Bholenath status, Bholenath attitude status for WhatsApp, Facebook and Instagram, Shivji par Shayari.  We all believe in God, he is the one who makes us.

God also stood with us. Family, friends at some time in life left us alone but he is one who keeps supporting us till our last breath and even after death also. His kindness is out of this world. He can be anyone your Friend, family. When he is with us we don’t need anyone else. I know the lifestyle we follow is very busy and we don’t find time for that one who brings us on this earth.

Keeping all these things in mind I thought that I should share with you something spiritual, something that gives our soul a calm. Today I am going to share with you Bholenath Shayari. Are you searching for Bholenath Shayari, Bholenath status, Bholenath attitude status for WhatsApp, Facebook and Instagram, Shivji par Shayari.? Do you want to keep your soul calm? If yes, then you are in the right place. I have prepared Bholenath Shayari, Bholenath status, Bholenath attitude status for WhatsApp, Facebook and Instagram, Shivji par Shayari. that you can read if you people want you can use this Bholenath Shayari in your WhatsApp status, Facebook and Instagram also.

Best Bholenath Shayari, Bholenath status, Bholenath attitude status for WhatsApp, Facebook and Instagram, Shivji par Shayari In Hindi 2020

    • महाकाल तेरी कृपा रही तोएक दिन अपना भी मुकाम होगा ।80-90 लाख की Audi Car होगी औरFront शीशे पे महाकाल तेरा नाम होगा ।
    • मौत का डर उनको लगता है, जिनके कर्मों मे दाग है ।
      हम तो महाकाल के भक्त है, हमारे तो खून में ही आग है ।

    • मंदिर के बाहर खड़े भक्त से महाकाल कहते है,
      बेझिझक भीतर आइए, “पाप” करके आप थक गये होंगे ।
    • महाकाल वो हस्ती है, जिससे मिलने को दुनियाँ तरसती है और
      हम उसी महेफिल में रोज बैठा करते है ।
    • चिलम के धुंये में हम खोते चले गये
      बाबा होश में थे मदहोश होते चले गये
      जाने क्या बात है भोलेनाथ के नाम में
      न चाहते हुये भी उनके होते चले गये
    • ना गिनकर देता है
      ना तोलकर देता है
      जब भी मेरा भोलेनाथ देता है
      दिल खोल कर देता है
    • आंधी तुफान से वो डरते है
      जिनके मन मेँ प्राण बसते हैँ
      जिनके मन मे ‪‎‬भोलेनाथ बसते हैँ
      वो मौत देखकर भी हँसते हैँ
    • बीमारे मोहब्बत हूँ दवा मांग रहा हूँ
      मेरे बाबा के दामन की हवा मांग रहा हूँ
      ज़ंज़ीर बांध क़र मुझे ले चलिए भोलेनाथ के पास
      मुजरिम हूँ आपके दर्शन की सज़ा मांग रहा हूँ
    • सबसे बड़ा तेरा दरबार है
      तू ही सब का पालनहार है
      सजा दे या माफी भोलेनाथ
      तू ही हमारी सरकार है
    • शेरो वाली दहाड़ फ़िर सुनाने आए हैं
      आग उगलने को फ़िर परवाने आये हैं
      रास्ता भी छोड़ दिया स्वयं काल ने
      जब देखा उसने “भोलेनाथ” के दीवाने आए हैं
Share

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *